कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तारीकरण के विरोध में प्रदर्शन, एयरपोर्ट विस्तार पर रोक लगाने की मांग

कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तारीकरण के विरोध में प्रदर्शन, एयरपोर्ट विस्तार पर रोक लगाने की मांग

कांगड़ा

कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तारीकरण के विरोध में गठित संघर्ष समिति के बैनर तले गगल, नंदहेड़, सहोड़ा, इच्छी, मटौर, रिछयालू, सनौरा के सैकड़ों ग्रामीण सड़क पर उतर आए। ग्रामीणों ने एयरपोर्ट विस्तार पर रोक लगाने की मांग उठाई। ग्रामीणों ने पुराना मटौर से गगल एयरपोर्ट तक रोष रैली निकाली।
रोष रैली में ग्रामीणों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों ने सरकार को सचेत किया कि सरकार को भूमि अधिग्रहण से पहले हजारों किसानों, मजदूरों, दुकानदारों, बेरोजगारों की लाशों से गुजरना होगा। लोगों को कहा कि हवाई अड्डे के विस्तार से जहां परिवार उजड़ रहे हैं।

वहीं, कूहलें प्रभावित होने से उपजाऊ जमीन भी बंजर हो जाएगी। खेतीबाड़ी नहीं होगी तो सैकड़ों परिवार गुजारा कैसे करेंगे। संघर्ष समिति के विजय कुमार शर्मा, कुलभाष चौधरी, विजय कुमार, प्रदीप, वेद चौधरी, बिंदु धनोटिया, इकबाल, हंसराज, वेद चटानी, बलदेव, कुलभूषण, अशोक कुमार, जसबीर जस्सू, सुनीता देवी, रोशन लाल ने कहा कि गगल रिछयालु, सनौरा, इच्छी, पुराना मटौर, सहोंडा आदि गांवों के उजड़ने से कई लोग बेरोजगार होंगे।

सरकार रोजगार देने में तो असमर्थ है, लेकिन जिनको रोजगार मिला है उन्हें भी उजाड़ने का काम कर रही है। यह कैसा विकास है। प्रदर्शन में रविंद्र बाबा, विजय कुमार, विजय, विजय कुमार विजू , निर्मल सिंह, रोशन लाल, सुनीता आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.