राजनीति वंशवाद के गमले के फूल को प्रदेश के  मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगना शोभा नही देता: शशिदत्त,रवि मेहता

राजनीति वंशवाद के गमले के फूल को प्रदेश के मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगना शोभा नही देता: शशिदत्त,रवि मेहता

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शशि दत्त व शिमला ज़िला भाजपा अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा कि स्कूटर पर सेब ढोने वालों को प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगने का कोई हक नही है।
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शशि दत्त और जिला अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा है कि राजनीति वंशवाद के गमले के फूल को प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री पर टिप्पणी करना शोभा नही देता । कांग्रेस के विधायक विक्रमादित्य यह भूल गये है कि वो अपने पिता के दम पर विधायक बने है अभी उनकी अपने दम पर विधायक बनने की हैसियत भी नही है।
उन्होंने कहा कि वो भूल गये हो तो उनको याद दिला दे कि प्रदेश में इससे पहले जब कांग्रेस की सरकार थी तब उनके पिता जी तब के मुख्यमंत्री दिल्ली में न्यायलयों में वकामुलाह चंद्रशेख की डायरी को डिकोड करने और उस डायरी पर ज्यादातर समय सफाई देने में लगाया करते थे।स्कूटर और तेल के टैंकर में सेब ढो कर दिल्ली ले जाने वाले को सोच समझ कर बयान देना चाहिए। भाजपा नेताओं ने कहा कि विक्रमादित्य बताए कि उनका दिल्ली वाला घर एक्साइज डिपार्टमेंट ने कियूं सीज किया है और सेब की वो कोन सी वेराइटी है जिसमे की 3 साल के अंदर हज़ारों के सेब की पैदवार को कई करोड़ों में पहुंचाया जा सके।
शशि दत्त व रवि मेहता ने विधायक विक्रमादित्य को सलाह दी है कि उनका समय अभी सीखने का है उन्हें अभी सीखना चाहिए न कि अनाप शनाप टिप्प्णी करनी चाहिये। विक्रमादित्य के खाने के दांत और है तथा दिखाने के और है। रात के अंधेरे में आकर मुख्यमंत्री जी की चमचागिरी करना और लोगों में कुछ और दिखना जायद दिन नही चलने वाला।
प्रदेश प्रवक्ता शशि दत्त व जिला अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा कि प्रदेश के ईमानदार और मेहनती मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर अनथक प्रयास कर प्रदेश के विकास व जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए कृतसंकल्प है । विक्रमादित्य को चाहिए कि वो अभी कांग्रेस पार्टी में अपनी जगह बनाये न तो कांग्रेस में उनको नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री मानते है और न ही प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर इसलिए उनको कांग्रेस में अपना आधार बनाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.