हिमाचल कांग्रेस में भी बगावत की बैठके शुरू,लेकिन मीडिया में कांग्रेस नेता ने बीजेपी की बगावत की सुर्खियां बटोरी,

हिमाचल कांग्रेस में भी बगावत की बैठके शुरू,लेकिन मीडिया में कांग्रेस नेता ने बीजेपी की बगावत की सुर्खियां बटोरी,


हिमाचल प्रदेश में कागडॉ में बीजेपी के एक धडे की बैठक के बाद अब कांग्रेस में भी बगावत की चिंगारी फुट गयी हैं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और नेता विपक्ष की गैर मौजूदगी में कांग्रेस के एक धडे ने राजधानी शिमला में पुर्व मन्त्री औऱ कांग्रेस नेता कोल सिंह के निजी आवास पर बेठक की हैं जिसे 2022 चुनाव और कांग्रेस अध्यक्ष और नेता विपक्ष से इतर कांग्रेस में बगावत के सुर से जोडकर देखा जा रहा है।

शिमला में आज पूर्व मंत्री कौल सिंह के घर पर कांग्रेस के कुछ हारे औऱ कुछ जीते नेताओं ने गुपचुप बैठक की। बैठक में हारे हुए विधायक कौल सिंह ठाकुर, सुधीर शर्मा, सोहन लाल और रोहित ठाकुर मौजूद रहे। जबकि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष विधायक सुखविंदर सिंह सुख्खू, आशीष बुटेल और हर्षवर्धन चौहान भी बैठक का हिस्सा बने। बताया जा रहा है कि मौजूदा कांग्रेस पार्टी की कार्यप्रणाली से ये नेता खुश नहीं है।जानकारी के मुताबिक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष से ये लोग खासे नाराज़ चल रहे हैं। इनका मानना है कि पार्टी अध्यक्ष की अगुवाई में आलाकमान को गलत और झूठी सूचनाएं दी जा रही हैं, जिससे कांग्रेस पार्टी की किरकिरी होने के साथ पार्टी कमज़ोर हो रही है। कांग्रेस पार्टी ने लोकसभा चुनाव में आलाकमान जो गलत रिपोर्ट दी और नतीज़ा प्रदेश में सबसे बड़ी हार हिमाचल कांग्रेस को झेलनी पड़ी। उपचुनावों में झूठी रिपोर्ट दी गई और पार्टी दोनों उपचुनाव बुरी तरह से हारी।अब भी पार्टी गलत रिपोर्ट आलाकमान को भेज रही है, जिसका ताज़ा उदाहरण आलाकमान को भेजा गया 12 करोड़ राशि वाला एक पत्र था। मौजूदा कांग्रेस कमेटी आलाकमान को गुमराह कर पार्टी को नुकसान पहुंचा रही है। बैठक के बाद एक बार फ़िर से कांग्रेस पार्टी के अंदर गुटबाज़ी फिर से मुखर होने लगी है ये चिंगारी आने वाले 2022 चुनाव से पहले लावा बनकर फुट सकती हैं हालांकि कांग्रेस बीजेपी सरकार की कमजोरी का फायदा उठाने की ताक में है लेकिन ये कांग्रेस पर खुद भारी न पड़ जाए हालांकि बैठक के बाद पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा मीडिया के सामने भी आये लेकिन मीडिया में अपनी बैठक का हवाला तो नही दिया परन्तु का काँगड़ा में बीजेपी की बगावत पर जरूर चटकारे लिये, अब देखना ये है कि हिमाचल कांग्रेस में ये बगावत आने वाले समय मे क्या गुल खिलाती हैं समय बताएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.